morning ki motivation baatein. in hindi

हर इंसान अपने आप मे नवाब होता हैं
लेकिन बाप आखिर बाप होता हैं

हम सिर्फ वही बोलते हैं,
जो सुनने वाला पहली बार सुनता हैं

लोग हमसे होते हैं
हम लोगों से नहीं

इंसान का महत्व तो नहीं पता हैं
लेकिन इंसानियत कोई हमसे पूछे

अगर लूटने से कोई धनवान होता
तो लुटेरों मे मेरा नाम सुनहरे अक्षरों मे लिखा जाता

प्यार मोहब्बत तो पागल लोग करते हैं
हम इतिहाश दोहराते नहीं रचते हैं

नदिया सुख जाए तो हमे कोई फर्क नहीं पड़ता
हम तो समुंदर की चाह रखते हैं

किसी गरीब को हम सताते नहीं
किसी घमंडी को ये बात बताते नहीं हैं

जीतने की चाह नहीं रखता मैं
लेकिन हारना मुझे पसंद नहीं हैं

कोई मुझे पसंद नहीं करता मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता
क्युकी, लोग मुझे पसंद करे ये मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं हैं

राह चलते समय मैं पीछे मुड़कर नहीं देखता
क्युकी मैं हमेशा चुनौतियों से भरे हुए रास्तों पर चलता हूँ

मैं शेर नहीं हूँ शाहब क्युकी मैं इंसान हूँ हाँ मैं शिकारी
जरूर हूँ जो अच्छे अच्छे शेरो को कैद कर लेता हूँ

मैं कभी किसी का नकल नहीं करता
अन्यथा आज मैं भी google का सीईओ होता

dosto yah artical kaisi lagi comment karke jarur btaye

Posted In

एक उत्तर दें

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.