अपने blog के लिए uniq content ऐसे लिखे

अगर आप एक ब्लॉगर हैं तो आपको पता होना चाहिए की एक uniq और प्रोफेशनल आर्टिकल की क्या अहमियत होती हैं ब्लॉगिंग इंडिस्ट्री मे, अगर आपको uniq आर्टिकल की अहमियत के बारे में नही पता हैं तो टेंसन लेने की कोई जरूरत नही हैं क्योंकि आज हम इसी टॉपिक पर बात करने वाले हैं की, unic आर्टिकल होता है और कैसे आप एक uniq और profesnol आर्टिकल लिख सकते हैं, और इसीलिए आज का हमारा आर्टिकल बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला हैं, तो बने रहिये हमारे साथ end तक।

Uniq आर्टिकल के फायदे

Uniq आर्टिकल का मतलब होता हैं, पूरे search engine पर ऐसा आर्टिकल नही होना चाहिए जैसा आप लिख रहे हैं,

आपका आर्टिकल सबसे अलग होना चाहिए, किसी से मैच नही होना चाहिए तब आपका content uniq होगा, और uniq content ही google के नज़र में जल्दी आता हैं, जिससे की growth की चांसेस बढ़ जाता हैं,

आपके जानकारी के लिए बता दु, की सिर्फ uniq कंटेंट लिखने से वीवर आपको read नही करेंगे क्योंकि अगर आप कुछ भी लिखेंगे तो वह uniq तो रहेगा लेकिन उसमे कोई informetion या कुछ पढ़ने जैसा रहेगा ही नही तो कोई क्यों read करेगा, इसीलिए कंटेंट को uniq और profetionl दोनो होना चाहिए,

प्रोफेशनल का मतलब हैं की, आपका कंटेंट जिस भी टॉपिक पर हैं और उस कैटेगरी में जितने भी प्रॉब्लम आते है, सबको shol करते हुए आगे बढ़ना, ना की छोड़ कर,

अगर आपका आर्टिकल uniq और profationl हैं तो आपका 70% काम ख़तम हो जाता है, अगर आप  keyword reasrch करके अच्छे keyword पर आर्टिकल लिख रहे हैं, तो फिर टेंशन ही खत्म आपके blog पर ट्राफिक आना सुरु हो जायेगा, भर-भर कर traffic इसलिए नही बोल रहा हु, क्योकि जैसा भी हो आसान नही हैं traffic लाना, और दुनिया का कोई भी काम किसी के लिए नामुमकिन भी नही हैं, इसलिए मेहनत करते रहो।

तो चलिये जानते है की uniq और profetionl कंटेंट कैसे लिखे, साथ ही हम जानेंगे ऐसा तरीका जिससे आपको कंटेंट लिखते समय भूलने वाला सिस्टम ही नही रहेगा।

आप अपने reader से क्या कहना चाहते हैं !

बहुत बार ऐसा होता हैं की हमे समझ मे नहीं आता है की लिखना क्या है और कई बार लिखते-लिखते हम अटक जाते हैं । हमारी आँखें कंप्यूटर की स्क्रीन पर होती है और उंगलियां कीबोर्ड पर और हमे समझ नहीं आता की आगे क्या लिखूं ? तो उसके लिए एक आसान तारिका है की आप अपने कंप्यूटर को छोडकर थोड़ा टहल कर आये या अगर कुकिंग का शॉक रखते हैं तो कुकिंग करें या मुह पर पानी मारे यानि फ्रेश होकर एक कप चाय /कॉफी जरूर पिये “उसके बाद सोचे की आगे क्या लिखना हैं”

कई बार ऐसा भी होता हैं की कोई blogger खाशकर new blogger ब्लॉग लिखते-लिखते भूल जाते हैं की आगे लिखना क्या हैं और भूल ही जाते हैं, उन्हें काफी कोशिशो के बाद आखिर उन्हें उस टॉपिक को खारिज़ करना पड़ जाता हैं, घबराने की कोई जरूरत नही हैं क्योंकि में ऐसा idea बताने वाला हूँ जिससे आपको कभी कोई कंटेंट खारिज़ करने की नौबत नही आयेगी,

ऑडियंस को ध्यान मे रखे !

“मान लो आप किसी मंच पर खड़े होकर बोल रहे हैं तो आपको पता होता है की आपको सुनने वाले लोग कौन है” इसी तरह आपको पता लगाना होगा की आपकी ऑडियंस कौन है ! आपके फॉलोवर्स कौन हैं जो आपको सुनते हैं या आपकी लिखी हुई बात को पढ़ते हैं। अगर आप इन सभी छोटी-छोटी बातों पर ध्यान देते हैं तो आपके लिए लिखना बहुत आसान हो जायेगा और आपके ऑडियंस को अच्छे से समझ मे आएगा की आप अपने ऑडियंस को क्या बताना चाहते हैं, और इससे लोग आपकी तरफ परभावित होंगे जिसके परिणाम स्वरुप आपका आर्टिकल सबसे बेस्ट होगा और आपके लिखे हुए कंटेंट को आपकी ऑडियंस शेयर भी करेगी।

google image

अपने ऑडियंस के साथ कॉन्टेक्ट बनाये रखे !

कंटेन्ट लिखते समय ध्यान रखें की आपका कंटेन्ट आपके ऑडियंस के साथ कांटेक्ट बना पा रहा हैं, ये बात बहुत महत्वपूर्ण हैं क्युकी अगर आपका कंटेन्ट अपने ऑडियंस को कॉन्टेक्ट मे नहीं ला पता हैं तो आपका मेहनत पूरा पानी मे जाएगा क्युकी आपका आर्टिकल लास्ट तक कोई नहीं पढ़ेगा, तो ऐसे मे ध्यान रखे की आपका कंटेन्ट लोगों से कॉन्टेक्ट बना पाए

कहीं आपके कंटेंट से इमोशंस छूट तो नहीं रहे !

एक राइटिंग में इमोशन होना बहुत जरुरी है क्युकी इमोशन ही आपके आपके ऑडियंस को लास्ट तक पकड़ कर रखता हैं आपको अपने ऑडियंस के इमोशंस को छूना होगा कनेक्ट करना होगा, आपको यह समझना होगा की कोई भी “मूवी या नाटक” तभी हिट हो पाता है जब उसमे इमोशंस होते हैं, और वो पब्लिक को आखिर तक पकड़ के रखते हैं। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं और इमोशंस की कमी रह जाती है तो आप कितनी भी मेहनत करलो आपकी मेहनत रंग लाने मे सक्षम नहीं हो पाएगा।

जैसा की मैंने पहले आपसे इमोशंस का बात किया और आपको समझाने की कोशिश किया की कंटेन्ट मे इमोशन की कितनी वैल्यू होती हैं और दूसरी तरफ फीलिंगस हैं और यहां मेरा फीलिंग्स से मतलब है की जब कोई आपका कंटेंट पढ़े तो वो आपके कंटेन्ट से जुड़ जाये और कंटेन्ट पढ़ने के बाद वो आपके आर्टिकल को आसानी से याद रख पाये और उस आर्टिकल को दुबारा पढ़ने के बारे में सोचने पर मजबूर हो और अपनी राय आपके साथ शेयर करे !

तो दोस्तों कैसी लगी हमारी आर्टिकल कॉमेंट करके जरूर बताये ! अगर आप ब्लॉगिंग से रेलेटेड जानकारी पाना चाहते हैं तो हमे फॉलो करे क्युकी हम इसी तरह की जानकारिया लाते रहते हैं

Posted In

एक उत्तर दें

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.